वाल पुट्टी का बिज़नेस कैसे शुरू करें ? (Wall Putty Business Idea In Hindi)

Wall Putty Business Idea In Hindi – वाल पुट्ठी का इस्तेमाल आज कल लगभग सभी इमारतों के लिए किया जाता है। इसे सीमेंट पेण्ट या पाउडर पेण्ट भी कहा जाता है। वाल पुट्ठी की सहायता से दीवारों को को पेंट किया जाता है और इसकी चिकनाइ दीवारों की सुंदरता को बढ़ा देती है। इसमें कई रंग और शेड्स को मिलाकर घरो, इमारतों, डैम, बहुमंजिला इमारतों को एक बेहतर लुक दिया जाता है। आज कल इसकी बढ़ती हुई डिमांड एक अच्छे बिज़नेस को दिखाती है क्योंकि, लगभग हर सतह की चिकनाई करने के लिए Wall Putty का उपयोग किया जाता है। यदि आप भी Wall Putty Ka Business करना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए है।  

LATEST BUSINESS IDEA :-

वाल पुट्ठी क्या होती है ? (What Is Wall Putty In Hindi)

वाल पुट्ठी को साधारण शब्दों में समझा जाए तो ये सीमेंट पाउडर और कुछ कच्चे माल को मिलाकर तैयार की जाती है। इसके उपयोग से दीवारों की चिकनाई और खुरदरी दिवार को एक नया लुक दिया जाता है। इसमें पेंट के शेड्स को मिलाकर आजकल नई नयी डिजाइन दीवारों पर बनायीं जाती है। कहने का तात्पर्य यह है कि  वाल पुट्ठी एक ऐसा सीमेंट है जिसका प्रयोग घरो, भवनों, बहुमंजिला इमारतों के प्रोजेक्ट में और अंदुरनी या बाहरी दीवारों में किसी प्रकार की कोई छेद, खुरदरेपन या खरोच को सही करके दीवारों को चिकना करने के लिए यूज़ किया जाता है।

भास्कर कैरियर परिवार के एक माननीय सदस्य बने 

WhatsAppJoin 
Telegram ChannelSubscribe
InstaGramFollow 
FaceBook PageLike
PinterestFollow
TwitterFollow

वाल पुट्ठी के बिज़नेस की शुरुआत किस प्रकार करें?

  1. स्थानीय तौर पर रिसर्च करना – किसी भी बिज़नेस को शुरू करने के लिए सबसे जरुरी होता है स्थानीय स्तर को देखना कि जहाँ कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा हो, वहाँ इस बिज़नेस को शुरू करना एक महत्वपूर्ण कदम हो सकता है। 

वैसे इसका उपयोग आजकल हर जगह हो रहा है जैसे घरो की दीवारों पर या दीवारों को चिकना करने, दीवारों से खुरदरापन हटाने में।  संक्षेप में कहे तो Wall Putty का उपयोग नगरीय इलाको में ज्यादा होता है तो आप अपना व्यवसाय उसी के अनुसार प्लान करे। 

  1. वाल पुट्ठी के लिए जगह का प्रबंधन करना – वाल पुट्ठी की मैन्युफैक्चरिंग कंपनी को स्थापित  करने के लिए एक उद्यमी को कई तरह के क्रिया कलापो के अनुसार ही जगह को सुनिश्चित करना चाहिए। जैसे कि  एक छोटा सा ऑफिस भी परिसर में होना चाहिए, वाल पुट्ठी के विनिर्माण की जगह, कार्यशाला, बिजली और पानी की आपूर्ति  जगह, आदि की व्यवस्था होनी चाहिए। 

जिसके लिए कम से कम 800 से 1000 स्क्वायर फ़ीट की जगह होनी चाहिए। बात की जाए मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाने के लिए जगह की तो जहा अच्छी सड़के हो, पानी और लाइट की उचित व्यवस्था हो और कर्मचारी आसानी से मिल जाए ऐसी लोकेशन पर ही यूनिट को लगाना लाभकारी हो सकता है।  

  1. वाल पुट्ठी के लिए पंजीकरण और लाइसेंस? (Wall Putty Business License Process In Hindi)
  • सबसे पहले अपने व्यवसाय को एक तरह से सही और वैधानिक रूप देने के लिए प्रोप्राइटरशिप के रूप में अपने को पंजीकृत करे। बहुत ज्याद औपचारिकताओं में न उलझे। 
  • टैक्स रजिस्ट्रेशन के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाना जरुरी है।
  • स्थान के चयन के आधार पर नगर निगम या नगर पालिका के द्वारा फैक्ट्री लाइसेंस या ट्रेड लाइसेंस की आवश्यकता होती है। 
  • यदि कोई उद्यमी अपना ब्रांड या अपने व्यवसाय को अपना रूप देना चाहता है तो अपने ब्रांड के सुरक्षा के लिए ट्रेडमार्क का रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। 
  • वाल पुट्ठी का व्यवसाय तेजी से बढ़ता हुआ व्यवसाय है जिसकी डिमांड सरकारी तौर पर भी बहुत होती है।  यदि कोई उद्यमी अपने व्यवसाय को उधोग व्यापार में  एमएसएमई  के द्वारा पंजीकृत करवाना चाहते हैं तो एमएसएमई बैंक में अपने व्यापार को पंजीकृत कराने की आवश्यकता होती hai.

वाल पुट्ठी को बनाने के लिए माल और मशीन

Wall Putty Manufacturing के लिए माल और मशीन   को लेने से पहले कोटेशन और प्राइस लिस्ट मंगा लेनी चाहिए और उसके अनुसार अपने व्यवसाय के लिए माल और मशीन लेना चाहिए। वाल पुट्ठी को बनाने के लिए माल और मशीन की लिस्ट इस प्रकार है।

  • माइल्ड स्ट्रीट बाल मिल और रिडक्शन गियर और एज रनर के साथ पूरी एसेसरीज़। 
  • भार मापने वाली मशीन जो प्लेटफार्म टाइप होती है।
  • केमिकल की टेस्टिंग के लिए उपकरण और मशीन।
  • काउंटर स्केल बैलेंस जो लगभग 10 किलो तक वजन माप सके। 
  • फायर एक्सिटंग्यूशर। 
  • ड्राई पावर के लिए मिक्सर। 
  • कुछ अन्य हैंड टूल्स। 

कच्चे माल की लिस्ट इस प्रकार है (Wall Putty Raw Materials List In Hindi)

  • वाइट सीमेंट 
  • हाइड्रेटेड लाइम 
  • वाटर प्रूफ मटेरियल 
  • सिलिका एग्रीगेट 
  • पिग्मेंट और कुछ अन्य तरह के रसायन पदार्थ जैसे कि जिंक सल्फेट, कैल्शियम कार्बोनेट और भी अन्य  तरह के रसायन 
  • मटेरिल को पैक करने के लिए मटेरियल

कर्मचारी और क्वालिटी को ध्यान रखना ?

व्यवसाय की डोर सबसे ज्यादा क्वालिटी पर निर्भर होती है और जिसे कर्मचारी के द्वारा बनाया जाता है। अतः अपने यूनिट की सफलता के लिए अच्छे कर्मचारियों और अच्छे गुणवत्ता वाले इंजीनियरों को स्थान दे। ऑफिस के कार्य को संभालने के लिए कुशल और शिक्षित कर्मचारियों को स्थान दे जो प्रबंधन का कार्य सुचारु रूप से करे। 

एक कार्य स्थल से दूसरे कार्यस्थल तक पहुंचाने के लिए भी कर्मचारियों का चयन करे।  शुरू में 7 से 8 कर्मचारियों के साथ बिज़नेस की शुरुआत कर सकते है।  बात करे अच्छी गुणवत्ता की तो उद्यमी को अपने ग्राहक के पसंद और उतपाद की आवश्यकता के अनुसार अपने उत्पाद की क्वालिटी मेन्टेन कर सकते है। 

वाल पुट्ठी का निर्माण की प्रक्रिया ?

  • आमतौर पर Wall Putty को बाईंडर, पिगमेंट और सॉल्वेंट के मिश्रण से  बनाया जाता है।
  • पिगमेंट की बात करे तो वॉल पुट्टी में टाइटेनियम डाइऑक्साइड, ब्लू फथलोसाइनिन, ग्रीन फथलोसाइनिन, कार्बन ब्लैक, रेड ऑक्साइड आदि कुछ प्रमुख  केमिकल का प्रयोग होता है, वही बाइंडर के लिए इस मिश्रण में सफ़ेद  सीमेंट या फिर 33 ग्रेड के पोर्टलैंड सीमेंट को मिलाया जाता है। 
  • इस तरह के उत्पाद में बॉल मिल्स और एज रनर का उपयोग भी होता है। 
  • जब तक सही रिजल्ट प्राप्त नहीं होता तब तक सभी मिश्रण को बोल मिल में चार्ज किया जाता है। 
  • उसके बाद मिश्रण को पीस करके एक सामान्य मिश्रण की तरह तैयार किया जाता है।
  • तैयार मिश्रण में एंटिफंगी साइड के लिए कुछ  दूसरे जरूरी केमिकल इसमें शामिल किए जाते हैं।
  • और इसके बाद कस्टमर की जरूरत के अनुसार शादी मैचिंग की जाती है और इसकी क्वालिटी को चेक किया जाता है और  पैकिंग कर के मार्केट में बेचने के लिए भेज दिया जाता है।  

वॉल पुट्टी के बिजनेस में निवेश राशि ?

सभी कच्चा माल और मशीनरी, और किराया, जमीन, जगह, बिजली बिल, पानी बिल आदि की लागत के अनुसार या आप किस पैमाने पर अपना व्यवसाय शुरू कर रहे है  निवेश की मात्रा उस पर निर्भर रहती है। फिर भी एक अंदाजा के अनुसार इस व्यवसाय में  7,00000 से लेकर 12,00000 तक लगाकर आप व्यवसाय शुरू कर सकते है।

प्रॉफिट ?

बात करें प्रॉफिट की तो वो उत्पाद की गुणवत्ता पर  आधारित  होता है और जितना अधिक सेल होगा आपको उतना प्रॉफिट होगा। फिर भी आप शुरू में थोड़ा मार्जिन लेकर अच्छा खासा प्रॉफिट कमा सकते है।

निष्कर्ष –

उम्मीद करता हूँ की आपको भास्कर करियर के इस आर्टिकल में Wall Putty Business Idea In Hindi, Wall Putty Ka Business Kaise Shuru Kare इत्यादि से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त हो गई होगी। यदि आप ऐसे हीं बिज़नेस आईडिया की जानकारी सबसे पहले पाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको भास्कर करियर को फॉलो करना होगा।

भास्कर कैरियर परिवार के एक माननीय सदस्य बने 

WhatsAppJoin 
Telegram ChannelSubscribe
InstaGramFollow 
FaceBook PageLike
PinterestFollow
TwitterFollow

Leave a Comment